दिल्ली में एक पुल बना, नाम है सिग्नेचर ब्रिज. जब से बना है भैया ये पुल तब से बवाल ही बवाल हो रहा है. उदघाटन वाले दिन ही मनोज तिवारी जी को “रिन्किया के पापा” वाला गाना याद आ गया और फिर हंसी ठिठोली के बीच खींच खींच के तमाचे चल पड़े. खैर, जो भी हुआ सही नहीं हुआ. लेकिन उसी दिन से पुल जो चर्चा में आया है तब से शांत नहीं हुआ है. भयानक भयानक स्टंट्स और दर्दनाक सड़क हादसों के कारण सिग्नेचर ब्रिज ख़बरों में छाया रहा.

सिग्नेचर ब्रिज. फोटो साभार: इन्टरनेट.

अब एक बार फिर कुछ ऐसा हुआ है जिसकी वजह से यह पुल चर्चा में है. कुछ “फोकटिया” लोगों ने सिग्नेचर ब्रिज के नट बोल्ट चुराने शुरू कर दिए हैं. जी, ये हाल है दिल्ली में रह रहे लोगों का. समय निकाल कर ये लोग पुल के नट बोल्ट खोल रहे हैं. दरअसल सिग्नेचर ब्रिज में कई केबल्स हैं जोकि पुल से जुड़े हुए हैं. एक केबल को जोड़ने के लिए लगभग 12 नट बोल्ट का इस्तेमाल किया गया है. सोमवार की सुबह जांच में ये नट बोल्ट गायब पाए गए.

दिल्ली पर्यटन एवं परिवहन विकास निगम यानी की DTTDC के इंजिनियर्स ने इस मसले पर आश्चर्य प्रकट किया है और कहा है कि इस मुसीबत से निपटने के लिए वे जल्द ही नट बोल्ट्स की वेल्डिंग करने वाले हैं. उन्होंने आगे बताया कि ये साधारण सी दिखने वाली हरकत किसी भी समय कोई अप्रिय घटना का कारण बन सकती है.

सरकार कुछ भी इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण अगर करती है तो वो आपके सुविधा के लिए होता है, ऐसे में इसका नुक्सान कर के आप अपने लिए ही कष्ट का आमंत्रण देते हैं. फोटो साभार: इन्टरनेट.

आपको बता दें की अभी तक यह पुल लोक निर्माण विभाग को नहीं सौंपा गया है क्योंकि पुल के उपरी हिस्से में अभी भी काम जारी है, जहाँ एक गैलरी बनायी जा रही है. दिल्ली पर्यटन विभाग ने इस पुल को रात ग्यारह बजे से सुबह 5 बजे तक बंद करने का फैसला भी किया है ताकि बचे हुए 22 मीटर की गैलरी का निर्माण जल्द से जल्द पूरा हो जाये. हालांकि इस फैसले को अभी लागू नहीं किया गया है लेकिन अधिकारियों ने कहा है कि जरुरत पड़ने पर विभाग ऐसा कर सकता है. पुल को बंद करने के लिए दिल्ली पर्यटन विभाग ने दिल्ली पुलिस और इससे जुड़े अलग अलग संस्थाओं से इसकी अनुमति भी ले ली है.

खैर, सिग्नेचर ब्रिज का नाम जिस तरह से लगातार ख़बरों में आ रहा है, उस वजह से हमें चिंता है कि सरकार कहीं इस पुल का नाम बदल कर सिग्नेचर से ऑटोग्राफ पुल न कर दे.

वैसे अभी तक ऐसा कुछ हुआ नहीं है लेकिन भविष्य में अगर ऐसा कुछ होता है तो चिंता मत कीजिये हम वो खबर भी आप तक पहुंचा देंगे. बने रहिये द कच्चा चिटठा के साथ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here